Sunday, November 27th, 2022

ईको गार्डेन में सपा विधायक व कार्यकताओं का धरना समाप्त, पार्टी कार्यालय वापस लौटे

समाजवादी पार्टी ने लखनऊ के ईको गार्डेन में चल रहा धरना समाप्त कर दिया है। विधायक मनोज पांडेय के नेतृत्व में धरना चल रहा था। सपा विधायक व कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर ईको गार्डेन लाया गया था। ये सभी सपा कार्यालय से निकलकर विधानभवन में प्रदर्शन करने जा रहे थे। धरना करने वालों में कुछ विधायक और पूर्व एमएलसी शामिल थे। सभी पार्टी कार्यालय वापस लौट आए हैं।

बुधवार सुबह समाजवादी पार्टी की ओर से विधानभवन में धरना देने का एलान करने के बाद सपा विधायकों को नजरबंद कर दिया गया था। उनके आवास पर सुबह से ही पुलिस फोर्स लगा दी गई। विधायक रविदास मल्होत्रा ने बताया कि सुबह 5.00 बजे ही उनके आवास पर पुलिस आ गई। उन्हें मॉर्निंग वॉक पर भी नहीं जाने दिया। लखनऊ में सपा कार्यालय व विधानभवन के बाहर बड़ी संख्या में पुलिसफोर्स तैनात कर दी गई है। दूसरी तरफ समाजवादी पार्टी ने भी ट्वीट कर विधायकों के आवास पर पुलिस फोर्स लगाए जाने की घटना की निंदा की है।

सपा ने विधान भवन स्थित पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा के समक्ष सपा कार्यकर्ताओं पर दर्ज कराए जा रहे फर्जी मुकदमों, किसानों की समस्याओं और महंगाई को लेकर धरना का एलान किया था। सपा ने 14 से 18 सितंबर तक धरना करने की घोषणा की थी।

सपा विधायक रविदास मल्होत्रा ने कहा कि सपा ने विधानभवन में धरना करने की घोषणा की थी पर सरकार हमारी आवाज को दबाने के लिए पुलिस का इस्तेमाल कर रही है। पुलिसकर्मी बीती रात से ही मेरे घर के बाहर तैनात हैं। उन्होंने बताया कि उन्हें मीडिया से बात करने से भी रोका गया।उधर, धरना के लिए विधानभवन पहुंचे सपा विधायकों को वापस कर दिया गया है और धरनास्थल चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा के पास पुलिसकर्मी तैनात है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.