Saturday, November 26th, 2022

मथुरा मामले को लेकर विपक्ष ने भाजपा पर किया तीखा वार, सिसोदिया बोले- BJP बच्चा चोर पार्टी

उत्तर प्रदेश के मथुरा रेलवे स्टेशन पर सो रही एक महिला की गोद से चुराया गया बच्चा सोमवार को फिरोजाबाद से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की महिला पार्षद विनीता अग्रवाल के घर से बरामद हुआ था. अब इस मामले को लेकर राजनीति तेज हो गई है. बच्चा चोरी के इस मामले को लेकर आम आदमी पार्टी, कांग्रेस और बिहार राजद ने भाजपा पर तीखा प्रहार किया है.

सिसोदिया बोले- ‘भाजपा बच्चा चोर पार्टी’

आपको बता दें कि दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आज यानी मंगलवार को मथुरा जंक्शन के एक प्लेटफॉर्म से चोरी हुए सात महीने के बच्चे की बरामदगी के सिलसिले में भाजपा की महिला पार्षद और सात अन्य की गिरफ्तारी का दिल्ली विधानसभा में जिक्र किया. मामले का जिक्र करते हुए सिसोदिया ने तंज कसते हुए भाजपा को ‘‘बच्चा चोर’’ पार्टी करार दिया.

वहीं, दूसरी और कांग्रेस नेता सुप्रिया श्रीनेत ने ट्वीट कर कहा, “बच्चाचोर??? भाजपाई कोई काले कारनामे छोड़ेंगे?”

इस मामले को लेकर बिहार राजद ने भी भाजपा को घेरा. बिहार राजद ने ट्वीट कर कहा, “B- बच्चा चोर J-जाहिल P-पार्टी.”

वहीं, सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने सोमवार को ट्वीट कर कहा था, ‘‘भाजपा ने बच्चों का वर्तमान और भविष्य तो चुरा ही लिया है… अब कम से कम ये काम तो न करें.’’

यहां जानिए विस्तार से पूरा मामला

मथुरा के राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) के अधीक्षक मोहम्मद मुश्ताक ने आयोजित संवाददाता सम्मेलन में बताया कि गत 24 अगस्त को तड़के साढ़े चार बजे मथुरा जंक्‍शन के प्लेटफॉर्म पर सो रही एक महिला के पास से चुराया गया सात माह का बच्चा सोमवार को फिरोजाबाद नगर निगम के वॉर्ड संख्‍या 51 की महिला पार्षद विनीता के घर से बरामद हुआ.

उन्होंने बताया कि विनीता ने यह बच्चा एक लाख 80 हजार रुपये में एक महिला स्‍वास्‍थ्‍यकर्मी के माध्यम से हाथरस के चिकित्सक दम्पति से खरीदा था.

मोहम्मद मुश्ताक ने बताया कि बच्चे की चोरी की बाबत उसकी मां राधा देवी ने राजकीय रेलवे पुलिस कोतवाली मथुरा जंक्‍शन में प्राथमिकी दर्ज कराई थी. उन्होंने बताया कि उस दिन महिला देर रात अपनी बहन के पति के गुजर जाने पर शोक मनाकर लौटी थी और रात ज्यादा हो जाने पर वहीं प्लेटफॉर्म पर ही सो गई थी, तभी उसका बच्चा चोरी कर लिया गया था.

मुश्‍ताक ने बताया कि राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी), विशेष कार्य बल (एसओजी) तथा सर्विलांस टीम की संयुक्त तफ्तीश में पता चला कि हाथरस में एक चिकित्सक दम्पति बच्चे चुराने तथा बेचने का गिरोह चला रहा है. उन्होंने बताया कि इस दम्पति के लिए कई ऐजेंट भी काम कर रहे थे, जो एक ओर तो बच्चे के ग्राहक तलाशते हैं. साथ ही ऐसे लोग भी जुडे़ थे, जो रेलवे स्टेशन और बस अड्डों से बच्चों को चुराते अथवा लावारिस बच्चों को अगवा कर बेच देते थे.

उन्‍होंने बताया कि इस मामले में गिरोह के सरगना हाथरस के सिकन्‍दराराऊ निवासी डॉक्‍टर प्रेम विहारी और उसकी पत्नी डॉक्‍टर दयावती, बच्चा खरीदने वाली फिरोजाबाद नगर निगम की पार्षद विनीता अग्रवाल और उसके पति कृष्ण मुरारी अग्रवाल, इन दोनों को बच्‍चा बेचने वाली स्‍वास्‍थ्‍यकर्मी पूनम और बच्‍चा चोरी करने वाले दीप कुमार शर्मा समेत आठ लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.