Sunday, November 27th, 2022

अमित शाह का जम्मू-कश्मीर दौरा:राजौरी में बोले- 70 साल तक 3 परिवारों ने राज किया, अब 30 हजार लोगों के पास शासन का अधिकार

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह सोमवार से 3 दिन के जम्मू-कश्मीर दौरे पर हैं। गृह मंत्री अमित शाह राजौरी में एक रैली को संबोधित कर रहे हैं। शाह ने कहा- 70 साल तक जम्मू-कश्मीर पर 3 परिवारों ने राज किया। लोकतंत्र सिर्फ अपने परिवारों में बना दिया था। तीन परिवारों ने लोकतंत्र और जम्हूरियत का मतलब सिर्फ पीढ़ियों तक शासन करना बना दिया था।

पहले जो हक 3 परिवारों के पास था, आज वह अधिकार 30 हजार लोगों को मिला है। रैली में मोदी- मोदी के नारे उन लोगों के लिए जवाब है, जो कहते थे कि अनुच्छेद 370 हटेगा तो आग लग जाएगी और खून की नदियां बह जाएंगी। अगर अनुच्छेद 370 और 35A नहीं हटता तो जम्मू-कश्मीर में ट्राइबल रिजर्वेशन नहीं मिलता।

पहाड़ी समुदाय को ST के दर्जे का ऐलान कर सकते हैं
गृह मंत्री पहाड़ी कम्युनिटी को अनुसूचित जनजाति (ST) का दर्जा देने की घोषणा कर सकते हैं। जम्मू-कश्मीर के राजौरी, हंदवाड़ा,पुंछ और बारामूला में पहाड़ी लोगों की बड़ी आबादी है। इस समुदाय के लोग जम्मू कश्मीर के 5 जिलों की 10 विधानसभा सीटों पर प्रभाव रखते हैं।

गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को वैष्णो देवी मंदिर में पूजा-अर्चना की।

गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को वैष्णो देवी मंदिर में पूजा-अर्चना की।

इससे पहले उन्होंने आज वैष्णो देवी मंदिर में पूजा-अर्चना की। जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा और केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह भी उनके साथ मौजूद थे। गृह मंत्री बनने के बाद शाह पहली बार मंदिर दर्शन करने पहुंचे। वह जम्मू में अलग-अलग परियोजनाओं की आधारशिला रखेंगे। यहां कई विकास परियोजनाओं का शुभारंभ करेंगे।

शाह ने सोमवार रात जम्मू में डोगरा, गुर्जर, बकरवाल, पहाड़ी समाज और सिख समुदाय के प्रतिनिधियों से मुलाकात की।

शाह ने सोमवार रात जम्मू में डोगरा, गुर्जर, बकरवाल, पहाड़ी समाज और सिख समुदाय के प्रतिनिधियों से मुलाकात की।

LG के साथ मीटिंग करेंगे गृह मंत्री
अम‍ित शाह 4 अक्टूबर की शाम श्रीनगर पहुंचेंगे। यहां कई भाजपा नेताओं से मुलाकात करेंगे। श्रीनगर में शाह उपराज्यपाल मनोज सिन्हा के साथ एक उच्चस्तरीय बैठक में भाग लेंगे। बैठक में पुलिस, CRPF और जम्मू-कश्मीर और केंद्र की खुफिया एजेंसियों के वरिष्ठ अधिकारी शामिल होंगे।

5 अक्टूबर को वह श्रीनगर के राजभवन में होने वाली बैठक में जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा स्थिति की समीक्षा करेंगे। श्रीनगर और बारामूला में अलग-अलग प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात भी करेंगे।

गृह मंत्री शाह सोमवार रात जम्मू पहुंचे। उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने उनका स्वागत किया।

गृह मंत्री शाह सोमवार रात जम्मू पहुंचे। उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने उनका स्वागत किया।

धारा 370 हटने के बाद दूसरी बार कश्मीर पहुंचे
धारा 370 के हटने के बाद शाह दूसरी बार जम्मू-कश्मीर के दौरे पर पहुंचे हैं, जबकि जम्मू का यह उनका पहला दौरा है। इससे पहले अक्टूबर 2021 में वह कश्मीर दौरे पर गए थे। अमित शाह का जम्मू दौरा 30 सितंबर के लिए तय किया गया था, लेकिन उनके शेड्यूल में बदलाव किया गया।गृहमंत्री के दौरे से पहले 28 सितंबर को उधमपुर में 8 घंटे के अंतराल में बसों में दो ब्लास्ट हुए। पहला ब्लास्ट बुधवार रात करीब साढ़े दस बजे दोमेल चौक पर पेट्रोल पंप के पास खड़ी एक खाली बस में हुआ। इसमें 2 लोग घायल हुए थे। दूसरा ब्लास्ट गुरुवार सुबह 6 बजे बस स्टैंड पर खड़ी एक खाली बस में हुआ। इसमें किसी के घायल होने की सूचना नहीं मिली थी

Leave a Reply

Your email address will not be published.