Sunday, November 27th, 2022

Covid-19 or Dengue: डेंगू और कोविड-19 के कई लक्षण हैं एक जैसे, फिर कैसे समझें फर्क?

Covid-19 or Dengue: डेंगू और कोविड-19 के कई लक्षण हैं एक जैसे, फिर कैसे समझें फर्क?

Covid-19 vs Dengue लगातार बारिश ने डेंगू के मामलों में तेज़ी ला दी है। कोविड और डेंगू के ऐसे कई लक्षण हैं जो एक तरह के हैं जिसकी वजह से लोगों को इनमें फर्क समझ नहीं आ रहा। ऐसे में आइए जानें कैसे इनमें अंतर को समझ सकते हैं।

Covid-19 vs Dengue: पिछले कुछ महीनों में देश के ज़्यादातर हिस्सों में खूब बारिश हुई है। जिसकी वजह से डेंगू के मामले भी बढ़ते दिख रहे हैं। हाल ही में रिपोर्ट के अनुसार, लोगों को डेंगू और कोविड-19 संक्रमण को समझने में दिक्कत आ रही है, जिसकी वजह से इलाज में भी देर हो रही है। जो एक चिंताजनक बात है। ऐसे में इन दोनों बीमारियों में फर्क समझना ज़रूरी है।

डेंगू चार तरह के वायरस की वजह से होता है, वहीं, कोविड-19 SARS-CoV-2 वायरस के कारण होता है। कोविड एक संक्रमित व्यक्ति की खांसने, छींकने, बात करने से फैल सकता है। वहीं, डेंगू एडीज़ एजिप्टी मच्छर के काटने से होता है। इन दोनों बीमारियों के कुछ लक्षण बिल्कुल एक तरह के हैं, जैसे, शरीर में दर्द, मांसपेशियों में दर्द, ठंड लगना, बुखार और मतली।

बुखार से पता चल सकता है कि डेंगू है या कोविड

कोविड-19 और डंगू दोनों में ही बुखार आना एक आम लक्षण है, हालांकि, फिर भी इन दोनों संक्रमण के बुखार में फर्क होता है। आमतौर पर कोविड में आने वाला बुखार हल्का देखा जाता है, जो 102 तक पहुंच सकता है। साथ ही इस आम बुखार की दवा से नीचे लाया जा सकता है। वहीं दूसरी तरफ, डेंगू संक्रमण में बुखार तेज़ होता है, जो 103 से 105 तक जा सकता है। इसके साथ ही कई लक्षण भी परेशान करते हैं, जिसके लिए फौरन डॉक्टर से संपर्क करना ज़रूरी है

इसके अलावा, कोविड में आने वाला बुखार, आता-जाता रहता है, वहीं, डेंगू में बुखार लगातार बना रहता है। इसलिए बुखार किस तरह का है इससे भी कोविड-19 और डेंगू में फर्क समझा जा सकता है।

दोनों संक्रमण के लक्षणों में फर्क कैसे समझें?

वैसे तो कोविड और डेंगू के कई लक्षण एक तरह के हैं, लेकिन इनके सामने आने का समय अलग-अलग होता है। अमेरिका के CDC के अनुसार, डेंगू से संक्रमित होने के 3 से 10 दिन के अंदर आपको लक्षण दिखने शुरू होते हैं, वहीं, कोविड-19 में लक्षण 5 से 7 दिनों में दिखने लगते हैं। इसके अलावा इन दोनों के शुरुआती लक्षणों से भी फर्क का पता लगाया जा सकता है।

जैसे कोविड संक्रमण की शुरुआत एक समय पर एक या उससे ज़्यादा लक्षणों से हो सकती है, जो हर व्यक्ति के साथ बदल भी सकते हैं। लेकिन, डेंगू में आमतौर पर संक्रमण की शुरुआत सिर दर्द या कमज़ोरी के साथ होती है।

कोविड और डेंगू में गंभीर संक्रमण कैसा होता है?

सीडीसी के अनुसार, डेंगू के मामले में, बीमारी अगर गंभीर स्तर पर जाती हैं, तो इससे प्लाज़मा लीकेज हो जाता है, जिससे बॉडी शॉक में चली जाती है, फ्लूएड जमा हा जाता है, थ्रोम्बोसाइटोपेनिया के साथ गंभीर रक्तस्राव, हृदय की समस्याएं और अंगों को गंभीर हानि पहुंचती है।

कोविड-19 में गंभीप बीमारी के लक्षणों में:

– सांस लेने में कष्ट

– हाइपोक्सिया

– शॉक

– सांस की विफलता

– कई अंगों का फेल हो जाना

कैसे रहें सुरक्षित?

कोविड-19 से बचने के लिए मास्क पहनना बेहद ज़रूरी है, ताकि वायरस को फैलने से रोका जा सके। इसके अलावा शारीरिक दूरी, हाथों की सफाई और वैक्सीन लगवाने से आप गंभीर संक्रमण से बच सकते हैं।

डेंगू से बचाव के लिए, मॉस्कीटो रिपेलेंट, पूरी बाज़ू की शर्ट, पूरी पैंट्स पहनें और साफ-सफाई का ध्यान रखें। घर के आसपास पानी का जमाव न होने दें। रुके हुए पानी में मलेरिया और डेंगू के मच्छर पनपते हैं।

Disclaimer: लेख में उल्लिखित सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं और इन्हें पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी सवाल या परेशानी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.