Saturday, November 26th, 2022

Thyroid Cancer: महिलाओं में बढ़ रहे हैं थाइरोइड कैंसर के मामले, जानें क्या हैं कारण, लक्षण औ इलाज

Thyroid Cancer: जानें थाइरोइड कैंसर के कारण, लक्षण और इलाज के बारे में

Thyroid Cancer एक रिपोर्ट के अनुसार महिलाओं में थाइरोइड कैंसर के मामले बढ़ते दिख रहे हैं। यह ज़्यादा चिंताजनक इसलिए है क्योंकि इसके कोई शुरुआती लक्षण नहीं दिखते। हालांकि इस कैंसर की वजह से लिम्फ नोड्स में सूजन आवाज़ का बदलना और निगलने में दिक्कत हो सकती है।

Thyroid Cancer: युवा लोगों में थाइराइड कैंसर के मामले तेज़ी से बढ़ रहे हैं। यह पुरुषों की तुलना महिलाओं में ज़्यादा देखा जा रहा है। इसकी शुरुआत थाइरोइड से होती है, जो धीरे-धीरे बढ़ता जाता है। इस कैंसर का शुरुआती लक्षण भी आमतौर पर नहीं देखा जाता। कमज़ोरी, त्वचा के रंग में बदलाव, नाखूनों और बालों की सेहत में बदलाव कुछ संकेत हो सकते हैं।

रिसर्च गेट की एक रिपोर्ट के अनुसार, थाइरोइड कैंसर होने की संभावना 30 से कम आयु वर्ग में 121% है, 107% 30-44 के आयु वर्ग में, 45-59 के आयु वर्ग में 50%, 60-74 आयु वर्ग में 15% और 75 के आयु वर्ग में 27 फीसदी।

थाइरोइड कैंसर क्या है?

थायरॉयड ग्रंथि में शुरू होने वाली अनियमित कोशिका वृद्धि को थाइरोइड कैंसर कहा जाता है। गले के निचले हिस्से में, श्वासनली (विंडपाइप) के करीब, एक ग्रंथि होती है जिसे थायरॉयड कहा जाता है। इसमें दाएं और बाएं लोब होते हैं और तितली की तरह दिखता है। एक सामान्य थायराइड एक चौथाई के आकार के आसपास होता है। यह आमतौर पर त्वचा के माध्यम से पता लगाने योग्य नहीं होता। थाइरोइड हार्मोन पैदा करता है, जो शरीर का वज़न, रक्तचाप, हृदय गति, रक्त प्रवाह, शरीर के तापमान और अन्य कारकों को नियंत्रित करता है।

किन लोगों में होता है थाइरोइड कैंसर का ज़्यादा जोखिम?

पुरुषों की तुलना महिलाओं में थाइरोइड से जुड़े मामले ज़्यादा देखे जाते हैं, जिसके पीछे हार्मोन की अलग-अलग भूमिकाएं हो सकती हैं। विशेषज्ञों के अनुसार, एस्ट्रोजन इसमें भूमिका निभा सकता है। महिलाओं के शरीर में एस्ट्रोजन की सामान्य मात्रा अधिक होती है।

थाइरोइड कैंसर के लक्षण

थायराइड कैंसर के लक्षण धीरे-धीरे विकसित होते हैं। अधिकांश थायराइड कैंसर के कोई शुरुआती चेतावनी संकेत या लक्षण नहीं होते। इसमें सबसे आम है थकान। बालों, नाखून और त्वचा के रंग में बदलाव दिखना।

थाइरोइड कैंसर की वजह से ये दिक्कतें हो सकती हैं:

  • गर्दन पर एक गांठ सी दिखना, जिसे हाथों से महसूस किया जा सकता है।
  • आवाज़ में बदलाव
  • निगलने में दिक्कत
  • गर्दन में मौजूद लिम्फ नोड्स जिनमें सूजन हो।
  • गले और गर्दन में तकलीफ

थाइरोइड कैंसर का पता कैसे चलता है?

अगर किसी महिला की गर्दन में गांठ महसूस होती है, या फिर डॉक्टर एक्स-रे या सीटी पर एक थायरॉयड घाव को नोटिस करता है, तो अगला निदान परीक्षण आमतौर पर लैब की मदद से होता है। उसके बाद एक अल्ट्रासाउंड होता है, जो नोड्यूल के बारे में बहुत सारी जानकारी प्रदान करता है।

थाइरोइड कैंसर का इलाज

थाइरोइड कैंसर के मरीज़ों के लिए कई तरह की थैरेपी विकल्प उपलब्ध हैं। इसमें कई तरह के इलाज भी शामिल हैं, जो स्थिति के अनुसार होते हैं।

Disclaimer: लेख में उल्लिखित सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं और इन्हें पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी सवाल या परेशानी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.