Saturday, November 26th, 2022

वर्ल्ड वेजिटेरियन डे आज:रिसर्च में दावा- नॉनवेज खाने वालों के मुकाबले वेजिटेरियन्स में कैंसर का खतरा 14% कम

दुनिया के कई डॉक्टर्स और हेल्थ एक्सपर्ट्स वेजिटेरियन डाइट यानी शाकाहारी भोजन का समर्थन करते हैं। इससे शरीर में ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल का लेवल सामान्य बना रहता है। यह डाइट हाइपरटेंशन, मोटापा और टाइप-2 डायबिटीज जैसी कई गंभीर बीमारियों को दूर रखती है।

आज वर्ल्ड वेजिटेरियन डे है, इस मौके पर एक ऐसी रिसर्च के बारे में जानते हैं जो शाकाहारियों को मांसाहारियों में कैंसर के खतरे की तुलना करती है। इसे हाल ही में वर्ल्ड कैंसर रिसर्च फंड, कैंसर रिसर्च UK और ऑक्सफोर्ड पॉपुलेशन हेल्थ ने BMC मेडिसिन जर्नल में पब्लिश किया है।

4 लाख 72 हजार लोगों पर रिसर्च
रिसर्च में 4 लाख 72 हजार लोगों को शामिल किया गया। इनका डाइट डेटा UK बायोबैंक से लिया गया। मांस और मछली खाने वाले लोगों को अलग-अलग कैटेगरीज में बांटा गया। इन लोगों के 11.4 साल के डाइट पैटर्न को फॉलो किया गया।

पहले ग्रुप में वो लोग थे जो हफ्ते में 5 या ज्यादा दिन नॉनवेज खाते थे। ये लोग रेड मीट से लेकर चिकन तक, सभी तरह का नॉनवेज खाते थे। दूसरे ग्रुप में वो लोग थे जो हफ्ते में 5 या उससे कम दिन मांस खाते थे। तीसरे ग्रुप में उन्हें रखा गया जो पेस्केटेरियन्स थे, यानी सिर्फ मछली खाने वाले। चौथे और आखिरी ग्रुप में ऐसे शाकाहारी लोगों को रखा गया, जिन्होंने कभी नॉनवेज नहीं खाया।

नॉनवेज से सेहत को नुकसान
वैज्ञानिकों ने पाया कि रेगुलर नॉनवेज खाने वाले लोगों की तुलना में कम नॉनवेज खाने वालों में किसी भी कैंसर का खतरा 2% घट जाता है। पेस्केटेरियन्स में ये खतरा 10% और शाकाहारियों में 14% कम होता है।

कम मांस खाने वालों में आंत में कैंसर होने का खतरा भी 9% कम पाया गया। शाकाहारी महिलाओं में मेनोपॉज के बाद होने वाले ब्रेस्ट कैंसर (स्तन कैंसर) का खतरा 18% कम मिला। इसकी वजह नॉर्मल वजन को भी माना जा सकता है। मांसाहारियों के मुकाबले पेस्केटेरियन्स में प्रोस्टेट कैंसर का खतरा 20% और शाकाहारियों में 31% कम पाया गया।

क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स?
इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में डॉक्टर अयान बसु ने कहा- वेजिटेरियन डाइट कोलोरेक्टल कैंसर के जोखिम को 22% तक कम करती है। साथ ही कोई भी कैंसर होने के कुल खतरे को 10 से 12% तक कम कर देती है। इसलिए बेहतर सेहत के लिए वेजिटेरियन डाइट अच्छी मानी जाती है।

FSSAI भी करता है प्लांट बेस्ड डाइट का सपोर्ट

फूड एंड सेफ्टी स्टैंडर्ड्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया (FSSAI) ने भी कुछ समय पहले एक फोटो ट्वीट कर शाकाहारी खाने के फायदों के बारे में जानकारी दी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.