Thursday, November 24th, 2022

मेडिकल एक्ट में होगा बदलाव:एनएमसी में बनेगा पांचवां बोर्ड, परीक्षा आयोजित करने की होगी जिम्मेदारी

नई दिल्ली। नेशनल मेडिकल कमीशन (एनएमसी) एक्ट में बदलाव करने की तैयारी चल रही है। एनएमसी एक्ट में बदलाव करके नेशनल बोर्ड ऑफ एग्जामिनेशन (एनबीई) को विलय कर दिया जाएगा। यही नहीं एनएमसी में अभी चार बोर्ड हैं जिसे बढ़ा कर पांच करने की तैयारी हो रही है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक एनएमसी में एनबीई का विलय करने के बाद पांचवें बोर्ड के रूप में इसे मान्यता दी जाएगी। इसी के पास एमबीबीएस के एग्जिट परीक्षा लेने की जिम्मेदारी दी जा सकती है। अभी तक एमबीबीएस का फाइनल ईयर जो कि एग्जिट एग्जाम भी होगा कौन आयोजित करेगा यह तय नहीं है। लिहाजा, मंत्रालय एनएमसी में पांचवां बोर्ड बनाने की तैयारी कर रहा है। एनएमसी में अभी अंडर ग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन, पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन, मेडिकल एसेसमेंट एंड रेटिंग बोर्ड और एथिक्स एंड मेडिकल रजिस्ट्रेशन बोर्ड के अलावा मेडिकल की परीक्षा आयोजित करने के लिए पांचवा बोर्ड बनाया जाएगा।

दरअसल एनएमसी एक्ट के अनुसार वर्ष-2023 से एमबीबीएस के फाइनल ईयर की परीक्षा की जगह एग्जिट एग्जाम आयोजित किया जाना है, लेकिन अभी तक इसके लिए तैयारी शुरू नहीं हो पाई है। लिहाजा मेडिकल स्टूडेंट्स के साथ-साथ मेडिकल कॉलेज भी अभी असमंजस में हैं कि वर्ष-2023 से एग्जिट परीक्षा आयोजित होगी या पुराने पैटर्न से ही अगले वर्ष परीक्षा आयोजित होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.