इस्कॉन मंदिर वृन्दावन

                               

आज मै राहुल बृज से आपको अपने बृज के वृन्दावन में स्थित इस्कॉन मंदिर के बारे में थोड़ा बताना चाहता  हूँ |असल में इस्कॉन एक पूर्ण संस्थान है जिसके संस्थापक स्वामी प्रभुपाद ने की थी जो की श्री कृष्णा के परम भक्त थे | उन्होंने पूरे  विश्व में यात्रा  की और प्रभु श्री कृष्णा का प्रचार किया था |इस मंदिर का निर्माण 1975 में हुआ था और इस मंदिर को श्री कृष्णा बलराम मंदिर के नाम से जाना जाता है | यहाँ के अनुयायी केसरिया वस्त्रो में रहते है और तुलसी की माला हाथ में लेकर हरे कृष्णा हरे राम का नाम जपते रहते है और श्रीमद भागवत गीता का पाठ भी करते है|यही उनकी दिनचर्या होती है| इस मंदिर में आपको बड़ी मात्रा में देशी भक्तो के साथ विदेशी भक्त भी मिल जायेंगे जो की हिंदुत्व धरम अपना कर अपने सारे जीवन को प्रभु श्री कृष्णा के नाम कर चुके है |यहाँ आपको प्रभु श्री कृष्णा की बहुत ही खूबसुरत प्रतिमाए मिलेंगी जो की भगवान श्री कृष्णा की शिक्षाऔर उपदेशो का वर्णन करती है | आप यहाँ सीधे बस या अपनी कार से आ सकते है | यदि आप ट्रेन से आते है तो आपको पहले मथुरा जंक्शन आना पड़ेगा जो की वृन्दावन से लगभग 12 km दूर है | यदि आप फ्लाइट से आते है तो आपको आगरा या दिल्ली एयरपोर्ट पर उतरना होगा और वहा से टैक्सी लेकर सीधे वृन्दावन आ सकते है | यहाँ वृन्दावन में काफीअच्छे होटल आपको उचित किराये पर मिल जाएंगे जहा आप रुक सकते है और खाना भी शाहकारी आपको आप के पसंद का मिल जाएंगा |

इस मंदिर का खुलने का समय है:-

  • प्रातः 5.00 AM- 12.00 PM
  • संध्या:4.30 AM-8.00 PM

ISKON समेत MATHURA VRINDAVAN TEMPLE, VRINDAVAN DHAM की जानकारी पाये सिर्फ  mybrij.in में |

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *